Home » Ajab Gajab » भारत का ऐसा प्राचीन मन्दिर जहाँ होती है बिना सिर वाली देवी की पूजा पढ़े पूरी खबर …
loading...

भारत का ऐसा प्राचीन मन्दिर जहाँ होती है बिना सिर वाली देवी की पूजा पढ़े पूरी खबर …

आपने एक बात देखी होगी सबसे ज्यादा धार्मिक लोग भारत में ही है यहाँ की धरती को देवी-देवताओं की पावन भूमि माना जाता है देश के साथ-साथ विदेशो से भी पर्यटक भारत घुमने आते है और खासकर धार्मिक स्थानों पर सबसे ज्यादा लोग देखे जाते है

h

वैसे तो हमारे भारत की पहचान विविध संस्कृतियों से ही होती है इसमें से एक बात तो हमे ये सोचने पर भी मजबूर कर देती है कि यहाँ पर हर रोज कोई न कोई नया चमत्कार होता रहता है यहाँ के मंदिरों से जुड़े ऐसे हजारो किस्से है जिन्हें सुनकर कोई भी इन्हें देखने के लिए उत्साहित हो जाता है इनमे से एक मंदिर के बारे में आज हम आपको यहाँ पर बताने जा रहे है जिसे पढ़कर आपको बेहद हैरानी होगी .

झारखंड की राजधानी रांची से लगभग 80 किलोमीटर की दूरी पर रजरप्पा नाम की जगह है इस स्थान की पहचान धार्मिक महत्व के कारण बहुत प्रसिद्ध है क्यूंकि यहाँ पे एक मंदिर है जिसका नाम छित्रमस्तिके मंदिर है जोकि शक्तिपीठ के रूप में रांची की पावन धरती में बहुत विख्यात है तो आइये थोडा बहुत आप भी जान ले इस मंदिर की खासियत के बारे में .

वैसे तो असम में माँ कामख्या मंदिर को सबसे बड़ी शक्तिपीठ माना जाता है और इसके साथ ही दुनिया की दुसरे नंबर पर शक्तिपीठ रजरप्पा छित्रमस्तिके मंदिर है आपको जानकार और भी ज्यादा हैरानी होगी कि यहाँ पे भक्त बिना सिर वाली देवी मां की पूजा करते है ऐसा माना जाता है कि मातारानी अपने सभी भक्तो की मनोकामना पूरी करती है . इस मन्दिर के बाहर हर रोज 100-200 बकरों की बली भी दी जाती है .

 

Check Also

robot

पत्रकारिता के क्षेत्र में रोबोट का दखल, 1 सेकण्ड में बना लेता है इतनी खबरें

हर क्षेत्र में टेक्नलाॅजी का बोलबाला है। फिर चाहे वह किचिन में काम करना हो …

loading...